मौसम है अभी गिरने का


नीचे कुछ और नीचे
अभी और नीचे गिरना है
दिमाग क्यों खराब करो
थमने की बात सोचकर

खुद ब खुद तल छू लोगे
और थम जाएगा गिरना
कोई पर तो नहीं लगे हैं कि
अचानक उड़ान भर लोगे

ज़रा ध्यान दो टकराओ मत
एक दूसरे को पहचानो
तुम अकेले नही होगे उस गर्त में
मौसम है अभी गिरने का

गिरते हैं सभी मगर अकेले
उठना तब भी उस गर्त से
होगा साथ मिलकर ही
कई कंधे एक दूसरे को

संभालेंगे एक दूसरे पर
अभी आनंद लो गिरने का
जतन न करो बीच में
टहनियों को पकड़ बचने का

सब देखते हैं साथ के
तुम्हारी साहसी कमज़ोरी
कहीं तो तल छू ही लोगे
बेसब्री किस बात की

और साथ साथ निकलेंगे
एक दूसरे को खींच लेंगे
अभी गिरना और बाकी है
मौसम है अभी गिरने का